चंडीगढ़ परवरिश योजना अनाथ बच्चों को दे रही है आर्थिक मदद

देश के केंद्र प्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ में कोविद-19 में अनाथ हुए बच्चों 

जीवन को बेहतर बनाने के लिए  चंडीगढ़ परवरिश योजना की शुरुआत की गई है 

योजना के माध्यम से कोरोनावायरस संक्रमण से संक्रमित बच्चे 

अनाथ हुए बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाती है इसके अलावा उन्हें कई और 

जैसे की निशुल्क शिक्षा, भरण पोषण की सामग्री रहन-सहन की व्यवस्था 

 चिकित्सा सुविधा, स्नातक की पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता भी दी जाती 

सरकार द्वारा प्रत्येक बच्चे के नाम पर ₹300000 का फिक्स्ड डिपॉजिट भी किया जाता है 

जो उन्हें 21 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद दिया जाएगा

कोविद-19 के कारण अनाथ हुए बच्चों के पास रहने के लिए जगह नहीं है 

उन्हें विभिन्न संस्थाओं में रहने के लिए भी भर्ती कराया जाता है 

यानी यह योजना एक तरह से कोविद-19 के कारण अनाथ हुए बच्चों की परवरिश 

योजना के माध्यम से बच्चों की शिक्षा चिकित्सा एवं पालन पोषण में आने 

छत्तीसगढ़ परवरिश योजना के तहत आवेदन ऑनलाइन के माध्यम से कर सकते हैं