अमेरिका और रूस की तरह सीधे चंद्रमा पर क्यों नहीं जाता भारत

रूस की अंतरिक्ष एजेंसी ने लूना 25 मून लैंडर भेजा है

लूना 25 21 अगस्त को चांद की सतह पर उतर सकता है

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ने chandrayaan-3 बीते महीने लांच किया था

23 अगस्त को चांद की सतह पर उतर सकता है chandrayaan-3

लूना 25 chandrayaan-3 से पहले चांद की सतह पर कैसे उतरेगा

धरती की गुरुत्वाकर्षण से बाहर निकालने के लिए शक्तिशाली रॉकेट के साथ उड़ता है

सीधे चांद पर जाने के लिए बड़े और शक्तिशाली रॉकेट की जरूरत

इसमें ईंधन की ज्यादा खपत होती है

America rus ki tarah sidhe chandrama per kyon nahin jata Bharat