Sarkari yojna

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana 2023 | किसान ड्रोन योजना 2023, खरीदने पर 5 लाख की सब्सिडी लाभ एवं पात्रता जाने

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana भारतीय किसानों को तकनीकी खेती से जोड़ने के उद्देश्य से केंद्र सरकार द्वारा एक नया कदम उठाए जा रहा है

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana 2023 | किसान ड्रोन योजना 2023, खरीदने पर 5 लाख की सब्सिडी लाभ एवं पात्रता जाने

 

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana भारतीय किसानों को तकनीकी खेती से जोड़ने के उद्देश्य से केंद्र सरकार द्वारा एक नया कदम उठाए जा रहा है इस प्रयास के तहत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किस ड्रोन योजना की शुरुआत की जा रही है इस किसान दो योजना 2019 के अंतर्गत किसानों के खेत में कीटनाशक और पोषक तत्व को छिड़काव करने के लिए ड्रोन खरीदने पर अनुदान की राशि उपलब्ध कराया जाएगा या अनुदान अनुसूचित जाति या जनजाति छोटे और सीमांत किसानों महिलाओं और पूर्वोत्तर राज्य के किसानों को 50% या अधिकतम 5 लख रुपए तक प्रदान की जाएगी।

 

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana के तहत अन्य किसानों को ड्रोन खरीदने पर 40% या अधिकतम कर लख रुपए तथा किसान उत्पादक संगठन को 75% तक का अनुदान प्रदान की जाती है इसके अलावा किसी ऋषि मशीनरी कारण पर अप मशीन को ड्रोन खरीदने पर पूर्णता अनुदान दिया जाएगा अगर उनका प्रमाणित कृषि प्रशिक्षण संस्थान या कृषि विज्ञान केंद्र हो अगर आप भी इस किसान योजना 2023 का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ना होगा।

 

प्रधानमंत्री किसान ड्रोन योजना क्या है

 

Pradhanmantri Kisan Drone yojana  के तहत, किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए 50% से 90% तक Subsidy प्रदान की जाती है। सब्सिडी की राशि Drone की कीमत और किसान की आय पर निर्भर करती है।

इस योजना का लाभ लेने के लिए, किसान को अपने क्षेत्र के कृषि विभाग में आवेदन करना होगा। आवेदन के साथ, किसान को Drone के बिल की प्रति, किसान का आधार कार्ड, किसान का पैन कार्ड, किसान का बैंक खाता विवरण और किसान की आय का प्रमाणपत्र देना होगा।

Pradhanmantri Kisan Drone yojana  का लाभ लेने के लिए किसान की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। किसान के पास कम से कम 5 एकड़ कृषि भूमि होनी चाहिए। किसान का भूमि स्वामित्व प्रमाणपत्र या पट्टा होना चाहिए।

Pradhanmantri Kisan Drone yojana  भारत सरकार की एक महत्वपूर्ण पहल है जो कृषि क्षेत्र में आधुनिकीकरण को बढ़ावा देने में मदद करेगी। इस yojana से किसानों की income में वृद्धि होगी और कृषि उत्पादन में वृद्धि होगी।

 

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana
Pradhanmantri Kisan Drone Yojana

प्रधानमंत्री किसान ड्रोन योजना का उद्देश्य

 

Pradhanmantri Kisan Drone yojana  Drone का उपयोग खेतों में कीटनाशक, उर्वरक, और बीजों का छिड़काव करने के लिए किया जा सकता है। यह कार्य पारंपरिक तरीकों की तुलना में अधिक कुशल और प्रभावी है। ड्रोन का उपयोग करके, किसान कम समय में अधिक क्षेत्र में छिड़काव कर सकते हैं, जिससे कीटों और बीमारियों से फसलों की रक्षा करने में मदद मिलती है। इसके अलावा, Drone का उपयोग करके, किसान उर्वरकों और बीजों का अधिक सटीक रूप से छिड़काव कर सकते हैं, जिससे लागत में कमी आती है।

Drone का उपयोग करके, किसान अपने स्वास्थ्य को भी सुरक्षित रख सकते हैं। पारंपरिक तरीके से कीटनाशक छिड़काव करने पर, किसानों को इन विषाक्त रसायनों के संपर्क में आने का खतरा होता है। Drone का उपयोग करके, किसान इन रसायनों के संपर्क में आने से बच सकते हैं।

Pradhanmantri Kisan Drone yojana का लाभ 15,000 महिला एसएचजी को मिलेगा। यह योजना देश के विभिन्न हिस्सों में लागू की जाएगी। योजना के तहत, प्रत्येक एसएचजी को 15 लाख रुपये की लागत से एक Drone प्रदान किया जाएगा। सरकार इस योजना के लिए 1,261 करोड़ रुपये का बजट आवंटित कर चुकी है।

Pradhanmantri Kisan Drone yojana एक महत्वपूर्ण पहल है जो कृषि क्षेत्र में आधुनिकीकरण को बढ़ावा देगी। इस योजना से किसानों की आय बढ़ेगी, कृषि उत्पादकता में वृद्धि होगी, और पर्यावरण को संरक्षित करने में मदद मिलेगी।

 

प्रधानमंत्री किसान ड्रोन योजना का लाभ

 

Pradhanmantri Kisan Drone Yojana  Drone का उपयोग करके फसलों की सुरक्षा में सुधार किया जा सकता है। Drone का उपयोग करके फसलों की निगरानी की जा सकती है और कीटों और बीमारियों की प्रारंभिक पहचान की जा सकती है। इससे किसानों को फसलों को नुकसान से बचाने में मदद मिल सकती है।

Drone का use करके फसलों की पैदावार में वृद्धि की जा सकती है। Drone का use करके फसलों को उर्वरक और कीटनाशकों का छिड़काव किया जा सकता है। इससे फसलों की उत्पादकता बढ़ सकती है।

Drone का उपयोग करके फसलों की सिंचाई में सुधार किया जा सकता है। Drone का उपयोग करके फसलों को Drip sinchai दी जा सकती है। इससे पानी की बचत हो सकती है और फसलों की सिंचाई की दक्षता बढ़ सकती है।

Drone का उपयोग करके फसलों के मूल्य में वृद्धि की जा सकती है। Drone का उपयोग करके फसलों की गुणवत्ता में सुधार किया जा सकता है। इससे फसलों की कीमत में वृद्धि हो सकती है।

Drone का उपयोग करके फसलों के परिवहन में आसानी की जा सकती है। Drone का उपयोग करके फसलों को छोटे पैकेजों में पैक किया जा सकता है। इससे फसलों के परिवहन की लागत कम हो सकती है।

Drone का उपयोग करके फसलों की बिक्री में आसानी की जा सकती है। Drone का उपयोग करके फसलों को सीधे उपभोक्ताओं तक पहुंचाया जा सकता है। इससे किसानों को बेहतर कीमत मिल सकती है।

Drone योजना से रोजगार के अवसरों में वृद्धि हो सकती है। Drone के संचालन के लिए प्रशिक्षित व्यक्तियों की आवश्यकता होगी। इससे युवाओं को रोजगार के अवसर मिल सकते हैं।

Drone yojana से आत्मनिर्भर भारत अभियान को बढ़ावा मिल सकता है। Drone के निर्माण और संचालन में स्थानीय उद्योगों को बढ़ावा मिल सकता है।

Drone योजना से भारतीय कृषि को आधुनिक बनाने में मदद मिल सकती है। Drone के उपयोग से कृषि कार्यों में दक्षता और उत्पादकता में वृद्धि हो सकती है।

Drone yojana से भारत को वैश्विक कृषि में अग्रणी बनने में मदद मिल सकती है। Drone के उपयोग से भारतीय कृषि उत्पादों की गुणवत्ता और प्रतिस्पर्धात्मकता में वृद्धि हो सकती है।

 

बिहार अनुग्रह अनुदान योजना 2023

 

प्रधानमंत्री किसान ड्रोन उड़ाने की शर्ते

 

Pradhanmantri Kisan Drone yojana के तहत किसानों को ड्रोन खरीदने पर 5 लाख रुपये तक की सब्सिडी दी जाती है। ड्रोन खरीदने के बाद उन्हें ड्रोन उड़ाने के लिए कुछ शर्तों का पालन करना होता है। इन शर्तों को निम्न प्रकार से बताया जा सकता है

Drone उड़ाने के लिए Drone लाइसेंस होना आवश्यक है। ड्रोन लाइसेंस प्राप्त करने के लिए किसान को Drone पायलट प्रशिक्षण लेना होगा। ड्रोन पायलट प्रशिक्षण की अवधि 2 सप्ताह होती है।

Drone उड़ाने के लिए उचित मौसम होना चाहिए। खराब मौसम या तेज हवा में ड्रोन उड़ाना सुरक्षित नहीं है।

Drone उड़ाने के लिए उचित जगह का चयन करना चाहिए। Drone उड़ाने के लिए हाईटेंशन लाइन या mobile tawer से दूरी बनानी चाहिए।

Drone उड़ाने के लिए अनुमति लेना आवश्यक है। यदि ड्रोन उड़ाने वाली जगह सरकारी भूमि है, तो उससे पहले अनुमति लेनी चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button