Tech news

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar Kya hai | ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल क्या अंतर

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar क्या आप भी यह जानना चाहते हैं कि ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल में क्या अंतर है?

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar Kya hai | ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल क्या अंतर

 

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar क्या आप भी यह जानना चाहते हैं कि ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल में क्या अंतर है? यदि हां तब आज का यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही जानकारी भरा होने वाला है वैसे तो यह आप भी जानते हैं होंगे कि ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल दोनों ही अलग-अलग प्रकार के गाइडेड मीडिया केबल है।

बता दे की ऑप्टिकल फाइबर बना होता है प्लास्टिक और गिलास से और वही इसका इस्तेमाल होता है सिग्नल को ट्रांसमिट करने के लिए लाइट या ऑप्टिक्स के रूप में वही कोएक्सियल केवल बना होता है प्लास्टिक और कॉपर वायर्स से वही इसका इस्तेमाल होता है सिग्नल्स को ट्रांसमिट करने के लिए इलेक्ट्रिक सिग्नल के रूप में ।

बता दे कि इन दोनों के बीच के अंतर को समझने के लिए चलिए थोड़ी सी जानकारी प्राप्त कर लेते हैं इन दोनों के विषय में जिससे आपको इनके बीच के अंतर को समझने में आसानी हो सकेगी तो चले स्टार्ट करते हैं।

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar
Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar

Coaxial Cable क्या है

 

Coaxial cable, या coax, एक प्रकार का electrical cable है जिसमें एक central conductor होता है जो एक concentric conducting shield द्वारा घिरा होता है। दो conductors को एक dielectric द्वारा अलग किया जाता है। Coaxial cable का उपयोग विभिन्न प्रकार के अनुप्रयोगों में किया जाता है, जिसमें टेलीविजन, केबल टीवी, इंटरनेट, और रेडियो शामिल हैं।

Coaxial cable का नाम “coaxial” शब्द से आता है, जिसका अर्थ है “एक ही धुरी के साथ”। Coaxial cable में, central conductor और shield एक ही धुरी साझा करते हैं। यह डिज़ाइन बाहरी interference से signal को सुरक्षित करने में मदद करता है।

Coaxial cable के तीन मुख्य भाग होते हैं:

 

Central conductor: यह conductor signal को ले जाने के लिए जिम्मेदार है। यह आमतौर पर copper या aluminum से बना होता है।

Dielectric: यह insulator central conductor और shield को अलग करता है। यह आमतौर पर polyethylene या polypropylene से बना होता है।

Shield: यह conductor को बाहरी interference से बचाता है। यह आमतौर पर copper या aluminum से बना होता है।

 

What is Java । जावा क्या है

 

ऑप्टिकल फाइबर क्या है

 

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar ऑप्टिकल फाइबर एक लंबी, पतली, पारदर्शी लाइन है जो प्रकाश को एक दिशा में संचारित करने के लिए उपयोग की जाती है। यह अक्सर संचार नेटवर्कों में डेटा भेजने के लिए उपयोग किया जाता है, लेकिन इसका उपयोग अन्य अनुप्रयोगों में भी किया जा सकता है, जैसे कि चिकित्सा इमेजिंग और दूरबीन।

ऑप्टिकल फाइबर दो मुख्य भागों से बना होता है: एक कोर और एक क्लैडिंग। कोर प्रकाश को संचारित करने वाला हिस्सा है। क्लैडिंग एक सुरक्षात्मक आवरण है जो कोर को नुकसान से बचाता है।

ऑप्टिकल फाइबर के दो मुख्य प्रकार हैं: मोनोमोड और मल्टीमोड। मोनोमोड फाइबर में एक बहुत ही छोटा कोर होता है जो केवल एक तरंग दैर्ध्य के प्रकाश को संचारित कर सकता है। मल्टीमोड फाइबर में एक बड़ा कोर होता है जो कई तरंग दैर्ध्य के प्रकाश को संचारित कर सकता है।

ऑप्टिकल फाइबर का उपयोग करके डेटा भेजने के लिए, एक प्रकाश उत्सर्जक का उपयोग करके प्रकाश को फाइबर के कोर में भेजा जाता है। प्रकाश फाइबर के माध्यम से यात्रा करता है और अंत में एक प्रकाश रिसीवर पर पहुंचता है, जो प्रकाश को एक विद्युत संकेत में परिवर्तित करता है।

 

ऑप्टिकल फाइबर के कई फायदे हैं। यह पारंपरिक तांबे के तारों की तुलना में बहुत अधिक डेटा को तेज गति से संचारित कर सकता है। यह विद्युत चुम्बकीय हस्तक्षेप से भी कम प्रभावित होता है, जिससे यह लंबी दूरी के संचार के लिए उपयुक्त होता है।

 

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar
Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar

ऑप्टिकल फाइबर और Coaxial cable  में  अंतर

 

Optical Fiber And Coaxial Cable me Antar ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केबल दोनों ही संचार के लिए उपयोग किए जाने वाले ट्रांसमिशन मीडिया हैं। हालांकि, इन दोनों के बीच कई महत्वपूर्ण अंतर हैं।

 

  1. ऑप्टिकल फाइबर में, प्रकाश सिग्नल को एक पतले, धातु के आवरण में बंद एक सिलिकॉन ऑक्साइड फाइबर के माध्यम से भेजा जाता है। कोएक्सियल केबल में, विद्युत सिग्नल को एक केंद्रीय तांबे के कंडक्टर के माध्यम से भेजा जाता है जो एक बाहरी धातु आवरण से घिरा होता है।

 

  1. ऑप्टिकल फाइबर में, उच्च बैंडविड्थ के कारण बहुत उच्च संचरण दरें संभव हैं। कोएक्सियल केबल में, संचरण दर ऑप्टिकल फाइबर की तुलना में कम होती है, लेकिन अभी भी काफी तेज होती है।

 

3.ऑप्टिकल फाइबर में, लंबी दूरी तक डेटा संचारित करना संभव है। कोएक्सियल केबल में, संचरण की अधिकतम दूरी ऑप्टिकल फाइबर की तुलना में कम होती है।

 

  1. ऑप्टिकल फाइबर में, डेटा को विद्युत चुम्बकीय हस्तक्षेप से बचाया जाता है। कोएक्सियल केबल में, डेटा विद्युत चुम्बकीय हस्तक्षेप के प्रति कुछ हद तक संवेदनशील होता है।

 

  1. ऑप्टिकल फाइबर कोएक्सियल केबल की तुलना में अधिक महंगा होता है।

 

आज आपने क्या सीखा

 

मुझे पूर्ण आशा है कि मैं आप लोगों को ऑप्टिकल फाइबर और कोएक्सियल केवल में क्या अंतर है इसके बारे में पूर्ण जानकारी दी और मुझे आशा है कि आप लोगों को इसके बारे में काफी समझ आई होगी। अगर आपको कहीं समझने में कोई कठिनाई हुई हो तो आप हमारे इस कमेंट सेक्शन में आप कमेंट करके प्रश्न पूछ सकते हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button