Aadhar card

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana । हिमाचल प्रदेश प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana:- हिमाचल प्रदेश प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना का शुभारंभ 2018 में राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया था

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana । हिमाचल प्रदेश

प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना

 

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana:- हिमाचल प्रदेश प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना का शुभारंभ 2018 में राज्य सरकार द्वारा शुरू किया गया था। इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को प्राकृतिक खेती से जोड़ना है। किसानों को प्राकृतिक खेती में स्थानांतरित करने से खेती की लागत कम होगी और किसने की आय में वृद्धि होगी। इसी उद्देश्य को आगे बढ़ते हुए किसानों को राज्य सरकार द्वारा आर्थिक मदद दी जा रही है। योजना के अंतर्गत भारतीय नस्ल की गाय की खरीद पर 50 की साड़ी का अनुदान राशि सरकार द्वारा दी जाएगी। गौशाला के फर्श को पक्के पर गोमूत्र एकत्र करने के लिए गड्ढा बनाने पर अस्तित्व साड़ी का अनुदान राशि दी जाएगी।

 

प्राकृतिक खेती के लिए यौगिकों की तैयारी के लिए उपयोग किए जाने वाले ड्रामा के लिए 75% की सदी तक अनुदान दी जाएगी। संसाधन भंडार खोलने के लिए राज्य सरकार द्वारा ₹10000 की आर्थिक सहायता की जाएगी। यह योजना केवल हिमाचल प्रदेश के किसानों के लिए ही शुरू किया गया है हिमाचल प्रदेश के सरकार की तरफ से। प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के लिए आवेदन आपको ऑनलाइन प्रक्रिया से करनी होगी।

अगर आप भी हिमाचल प्रदेश के निवासी हैं और आप भी अगर इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं। तो आप हमारे पोस्ट में लास्ट तक बन रहे हम आपको इस योजना से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करने वाले हैं। ताकि आपको इस योजना का लाभ लेने में किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना न करना पड़े और आप इस योजना को बड़े ही आसानी से लाभ प्राप्त कर सके।

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana योजना का उद्देश्य

 

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana
Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana

हिमाचल प्रदेश के सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है । कि जो भी किसान अपनी प्राकृतिक खेती से दूर होते जा रहे हैं । उन सभी के लिए इस योजना को शुरू करके उनके ध्यान प्राकृतिक खेती की तरफ केंद्रित करना है। ताकि जो किसान अपनी खेती से दूर होते हुए दिख रहे थे अब उन किसानों को प्राकृतिक खेती की तरफ जोड़ने का काम करेगी। प्राकृतिक खेती से किसानों की आय में दोगुना वृद्धि होगी और किसान भी अपनी आर्थिक स्थिति को सुधार सकेंगे।

हमारे देश में सभी राज्य के किसान ज्यादातर आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण खेती से दूर होते जा रहे हैं। और अपनी प्राकृतिक खेती को छोड़कर कहीं दूसरे शहर में मजदूरी करने जा रहे हैं। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के माध्यम से अब किसानों को खेती करने के लिए उत्साहित होंगे और अपनी खेती के लिए अत्यधिक ध्यान देंगे।

 

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana का लाभ।

भारतीय नस्ल की गाय खरीद पर 50% दिया 25000 का अनुदान तथा ₹5000 के यातायात शुल्क का अनुदान राशि दिया जाएगा।

गौशाला के फर्श को पक्के कर गोमूत्र एकत्र करने के लिए गड्ढा बनाने पर 80 फ़ीसदी या ₹8000 का अनुदान राशि दिया जाएगा।

प्राकृतिक खेती के लिए यौगिकों की तैयारी के लिए उपयोग किए जाने वाले ड्रामा के लिए 75 फिसड्डी या 2250 रुपए का अनुदान राशि दिया जाएगा।

संसाधन भंडार खोलने के लिए ₹10000 का अनुदान राशि दिया जाएगा।

 

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana की पात्रता

आवेदक राज्य का मूल निवासी होना चाहिए।

आवेदक कृषि क्षेत्र से संबंधित होना चाहिए।

परिवार से एक ही किसान इस योजना के लिए पात्र होंगे।

 

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana के महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट

निवासी प्रमाण पत्र

आधार कार्ड

वोटर आईडी

कार्ड राशन कार्ड

पासपोर्ट साइज फोटो

बैंक अकाउंट नंबर

Himachal Pradesh prakrutik kheti khushhal Kisan Yojana मैं आवेदन करने की प्रक्रिया

प्राकृतिक खेती कुशल किसान योजना में आवेदन करने के लिए आपको इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।

इसके बाद आपको अप्लाई फॉर स्किन पर क्लिक करना होगा

पोर्टल पर साइन अप के क्लिक करना होगा।

अब प्रस्तुत सूचियां में से प्राकृतिक खेती कुशल किसान योजना का चयन करना होगा।

इसके बाद आवेदन फॉर्म को ध्यान पूर्वक भरना होगा।

आवेदन पत्र भरने के बाद जरूरी डॉक्यूमेंट को पोर्टल पर अपलोड करें और सबमिट के बटन पर क्लिक करें।

सबमिट किए गए आवेदन को सत्यापन प्राधिकरण द्वारा स्थापित किया जाएगा।

सफल सत्यापन के बाद आवेदक योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button