Tech news

Google AdSense approval कैसे करायें

Google AdSense approval कैसे करायें : जितने भी नए ब्लॉगर्स हैं उन सभी को यह सवाल का जवाब जानने में बड़ी इच्छा होती है। और वह भी क्यों नहीं आखिर उन्होंने अपनी मेहनत की होती है इसके बाद Google AdSense approval के बाद मिलता है

Google AdSense approval कैसे करायें

Google AdSense approval कैसे करायें : जितने भी नए ब्लॉगर्स हैं उन सभी को यह सवाल का जवाब जानने में बड़ी इच्छा होती है। और वह भी क्यों नहीं आखिर उन्होंने अपनी मेहनत की होती है इसके बाद Google AdSense approval के बाद मिलता है।

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join
Google AdSense approval
Google AdSense approval

यह पोस्ट उन लोगों के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद साबित होगी जो अभी नया-नया ब्लॉगिंग स्टार्ट करना चाहते हैं। या फिर नया-नया ब्लॉगिंग स्टार्ट कर चुके हैं। और जीने गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल नहीं मिला है आज के इस पोस्ट में हम आपको गूगल ऐडसेंस अप्रूवल से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

गूगल ऐडसेंस एक ब्लॉगर के लिए सबसे अच्छा ऑनलाइन पैसा कमाने का जरिया माना जाता है बहुत ऐसे ब्लॉगर हैं। जो कई बार ऐडसेंस के लिए अप्लाई कर चुके हैं लेकिन जानकारी न होने के कारण उनका रिक्वेस्ट फेल हो जाता है।

गूगल ऐडसेंस अप्रूवल लेने के लिए गूगल की तरफ से कुछ नियम रखे गए हैं जो ब्लॉग्स इन नियमों का पालन करके गूगल ऐडसेंस अप्रूवल के लिए अप्लाई करते हैं उन्हें गूगल की तरफ से गूगल ऐडसेंस अप्रूवल बड़े ही आसानी से मिल जाता है। आज की इस पोस्ट में इन सभी नियमों के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

गूगल ऐडसेंस अप्लाई करने से पहले आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को पूरी अच्छी तरह से जांच कर ले अगर उसमें कोई कमियां नजर आ रही है तो उसे दूर करके फिर गूगल ऐडसेंस अप्रूवल के लिए अप्लाई करें इससे आपको बड़ी ही आसानी से गूगल ऐडसेंस का अप्रूवल मिल जाएगा।

Website design

गूगल ब्लॉगर से हमेशा चाहता है कि उसकी ब्लॉग में ज्यादा से ज्यादा अच्छी पोस्ट हो और उसमें ज्यादा ट्रैफिक हो तभी ऐडसेंस अप्रूवल लेना आसान होता है।

ऐडसेंस अप्रूवल करने से पहले आप कुछ अच्छे वेबसाइट को देख कर ऐडसेंस अप्रूवल हुआ है और अपने वेबसाइट से तुलना करें कि क्या-क्या दिक्कत है उसे ठीक करें। वर्डप्रेस या ब्लॉगर पर है तो पॉपुलर थीम का इस्तेमाल करें ऐसे थीम को ऐडसेंस के अनुसार ही डिजाइन किया जाता है।

Unique content write

पूरा इंटरनेट गूगल पर ही चलता है इसलिए वह जानता है कि कौन सा कंटेंट कहां है। यदि आप किसी दूसरे के कंटेंट को कॉपी पेस्ट करते हैं। तो गूगल आपके इस प्रक्रिया को तुरंत पकड़ लेता है। और आपको गूगल ऐडसेंस अप्रूवल लेने में दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है आप अपना कंटेंट सबसे कुछ यूनिक लिखने का प्रयास करें।

Article काम ना हो

बहुत सारे ऐसे ब्लॉगर होते हैं जो 6 से 7 पोस्ट लिखने के बाद गूगल ऐडसेंस अप्रूवल के लिए अप्लाई कर देते हैं जो बिल्कुल ही गूगल अप्रूवल को रिजेक्ट कर देता है काम आर्टिकल में गूगल अप्रूवल नहीं देता है कम से कम आपको  25 से 30 आर्टिकल लिखने के बाद ऐडसेंस अप्रूवल के लिए अप्लाई करना है।

SEO करें वेबसाइट को

वेबसाइट पर डायरेक्ट ट्रैफिक किसी सॉफ्टवेयर या वोट के द्वारा भी आ सकता है ऐसे ट्रैफिक को फैक्ट ट्रैफिक माना जाता है। वेबसाइट पर गूगल से आया हुआ ट्रैफिक कार्बनिक और सही होता है । यह बात गूगल भी मानता है ऐडसेंस अप्रूवल से पहले गूगल आपकी वेबसाइट का रोग का ट्रैफिक और उसका सोर्स चेक करता है। गूगल के द्वारा और अत्यधिक ट्रैफिक के लिए वेबसाइट का एसडीओ करना बहुत ही जरूरी है । इसकी मदद से अच्छे ट्रैफिक लाया जा सकता है।

Important pages

अगर अपने वेबसाइट या ब्लॉग में इंपॉर्टेंट पेज नहीं बनाए हैं तो इस स्थिति में आपको गूगल ऐडसेंस अप्रूवल मिलन मुश्किल हो जाता है क्योंकि इंपॉर्टेंट पेज ही ऐसा है जो ब्लॉग्स की पहचान होती है

Contact us page : इस के होने से यूजर्स को ब्लॉगर पर ट्रस्ट बना रहता है कि इस वेबसाइट का इस्तेमाल कर रहा हूं तो मेरी समस्या भी यहां से दूर हो सकती है। गूगल भी यही चाहता है की वेबसाइट मालिक और ऑडियंस के बीच रिलेशन बना रहे।

Privacy policy: इस फ के होने से यूजर को सभी पॉलिसी के बारे में बताएं जो आप अपने वेबसाइट पर इस्तेमाल करने वाले हैं या फिर करते हैं।

Disclaimer : इसमें बताएं की वेबसाइट का इस्तेमाल करते समय आपकी और यूजर की क्या जिम्मेदारी है और रिस्क है।

Illegal content

इलीगल कंटेंट से बिल्कुल दूर रहे इलीगल कंटेंट को अपने वेबसाइट में कभी भी पोस्ट ना करें इलीगल कंटेंट को अगर आप पोस्ट करते हैं। अपने वेबसाइट पर तो आपका यूजर को आपके ऊपर से भरोसा उठ सकता है । और अब का ट्रैफिक काम हो सकता है। यदि आप अप्रूवल के पहले इलीगल कंटेंट डालते हैं तो आपको अप्रूवल मिलने में भी दिक्कत हो सकता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button