Sarkari yojna

Gem portal 2024 Labh uddeshy । जेम पोर्टल क्या है

Gem portal 2024: ई-कॉमर्स का कारोबार दुनिया भर में तेजी से बढ़ रहा है इसलिए सरकार ने गवर्नमेंट की मार्केट प्लस जिसका संक्षिप्त नाम जेम है

Gem portal 2024 Labh uddeshy । जेम पोर्टल क्या है

Gem portal 2024: ई-कॉमर्स का कारोबार दुनिया भर में तेजी से बढ़ रहा है इसलिए सरकार ने गवर्नमेंट की मार्केट प्लस जिसका संक्षिप्त नाम जेम है। ताकि कोई भी पात्र व्यक्ति ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म जेम के साथ जुड़कर बिजनेस कर सकता है। केंद्र सरकार अपने अधीनस्थ विभागों में आपको कारोबार करने का मौका देने जा रहा है। इसलिए अब छोटे-मोटे स्तर पर अपना काम धंधा और उनका व्यापार करने वालों को ग्राहक के लिए कहीं पर आसरा देखने की जरूरत नहीं होगी।

Whatsapp Group Join
Telegram channel Join
Gem portal 2024
Gem portal 2024

यदि आप सामान खरीदने या बेचने का काम करते हैं । तो आपके लिए बहुत अच्छी खबर है। केंद्र सरकार ने जाम पोर्टल 2024 को किया है जिसकी मदद से आप सीधे सरकार को अपना सामान भेज पाएंगे । और सीधे सरकार के सामान खरीद पाएंगे और इसका लाभ आप सभी को मिलेगा इसके लिए आज के इस पोस्ट में हम आपको Gem portal 2024 बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

आज की पोस्ट में Gem portal के निंलिखित बिंदु पर चाचा करने वाले हैं जैसे की

Gem portal 2024

Gem portal tender search

Gem portal registration

Gem portal login

गवर्नमेंट ए-मार्केट प्लेस एक ऑनलाइन मार्केट है। जिससे कोई भी व्यक्ति सरकार के साथ बिजनेस कर सकता है अमूमन केंद्र सरकार ने सभी सरकारी विभागों को गवर्नमेंट मार्केट प्लस से जोड़ा हुआ है। जिसके जरिए सरकारी विभाग अपने उपयोग के लिए वस्तुओं और सेवाओं को ही पोर्टल जम के जरिए खरीदने हैं यानी सभी तरह की खरीदारी और उसका भुगतान ऑनलाइन होता है।

क्या है गवर्नमेंट ई मार्केट प्लेस जेम

ई पोर्टल जेम या गवर्नमेंट मार्केट प्लेस एक ऑनलाइन बाजार है जिससे कोई भी व्यक्ति घर बैठे जुड़ सकता है। और सरकार के साथ बिजनेस कर सकता है। रजिस्ट्रेशन के बाद सरकारी विभागों की डिमांड के हिसाब से सप्लाई करते हैं। जैसे किसी भी बाजार में होता है। ऐसा करने के लिए पहले मैन्युफैक्चरर्स से संपर्क करना होता है। और डिमांड आने पर वहां से सामान सप्लाई किया जाता है। कोई भी व्यक्ति जो सही उत्पादन कर रहा है। और सरकार की ओर से निर्धारित स्टैंडर्ड का सामान बन रहा है। वह जेम पोर्टल पर अपना सामान बेच सकता है।

जेम पोर्टल पर कौन व्यक्ति बिक्री कर सकता है

आपके मन में सवाल आ रहा होगा कि जाम पोर्टल पर बिक्री कौन कर सकता है। तो हम आपको बता देना चाहते हैं । कि कोई भी सेलर्स जो टैक्सबल और सर्टिफिकेट प्रोडक्ट बेच रहा है। वह अपना प्रोडक्ट भेज सकता है मान लीजिए आप कोई सामान बेच रहे हैं। तो जाम पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाएंगे फिर आप भारत सरकार का कोई डिपार्टमेंट उसे समान को खरीदने के लिए टेंडर निकलता है। तो आपको इसकी जानकारी दे दी जाएगी इसके बाद आप भी स्टैंडर्ड के लिए बोली लगा सकते हैं।

जेम पोर्टल के लाभ

पोर्टल पर उत्पाद किस्म के उच्च श्रेणी उपलब्ध है जो ग्राहक की पसंद को बढ़ाती है।

वास्तु के साथ-साथ सेवाओं की अलग-अलग श्रेणी के लिए मूल्य और अलग-अलग उत्पादों की सूची की पारदर्शिता।

कई आपूर्तिकर्ताओं की कीमत की तुलना।

जेम पोर्टल वस्तुओं या सेवाओं के विक्रेताओं को निम्नलिखित लाभ देती है।

विक्रेताओं को राष्ट्रीय सार्वजनिक खरीद Bazar me आसानी से पहुंच मिलती है।

विभिन्न सरकारी विभागों और सरकारी संगठनों तक सीधे पहुंच।

तीसरा सबसे बड़ा ई मार्केट प्लेस बना जाम पोर्टल

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने सरकारी खरीद में पारदर्शिता लाने और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए साल 2016 में जेम पोर्टल की शुरुआत की थी सरकार का यह पोर्टल अब दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा ही मार्केट प्लेस बन चुका है। मौजूदा वित्तीय वर्ष में जैन पोर्टल पर एक लाख करोड रुपए से भी ज्यादा की बिक्री हो चुकी है। पोर्टल के शुरू होने से लेकर अभी तक जाम पोर्टल पर 3.38 लाख करोड रुपए की खरीद की जा चुकी है। बताते चले कि सरकार के इस पोर्टल पर सिर्फ वस्तु ही नहीं बल्कि सेवाओं की भी खरीद और बिक्री की जाती है आपको जानकर हैरानी होगी। कि सरकार का जाम आर्डर प्राप्त करने के लिए है। से दुनिया का सबसे बड़ा और ऑर्डर की वैल्यू के लिहाज से तीसरा सबसे बड़ा ई मार्केट प्लेस बन गया है।

जेम पोर्टल रजिस्ट्रेशन विक्रेताओं के लिए

Gem Portal पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।

https://gem.gov.in

आपको होम पेज पर साइन अप करने का विकल्प ढूंढना होगा और फिर खरीद विकल्प का चयन करना होगा।

फिर आपको नियम और शर्ट के बटन पर क्लिक करना होगा और फिर चेक बॉक्स पर क्लिक करके नियम और शर्ट को स्वीकार करना होगा।

आपको अपने आधार नंबर और मोबाइल नंबर के साथ फॉर्म भरना होगा जो आपके आधार से जुड़ा हुआ है और फिर और ओटीपी प्राप्त होगा उसके बाद आपके नंबर क्लिक करके सत्यापन करना होगा।

इसके बाद खाता बनाए के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा इससे पहले अपना उपयोगिता नाम पासपोर्ट और ईमेल आईडी पता दर्ज करके खाता पंजीकरण के फॉर्म को पूरा करना होगा।

आपको ईमेल के ओटीपी को सत्यापन करने की आवश्यकता हो सकती है।

आपको होम पेज पर जाना होगा और यूजर आईडी और पासवर्ड जैसे क्रिएट सिलेक्ट के जरिए लोगों करने के लिए ऑनलाइन बटन पर क्लिक करना होगा।

मूंछ पृष्ठ के ऊपर दाएं कोने में उपकारिता बटन का चयन करके करता जोड़े चुनकर द्वितीय उपकर्ता की जानकारी दर्ज करके और फिर जोड़ का चयन करके प्राथमिकता उपयोगकर्ता द्वितीय उपयोगकर्ता स्थापित कर सकते हैं

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button